Saturday, 30 March 2013

जानिए वो तरीके जिनसे आप कमा सकते है घर बैठे कमायें लाखों रूपये



आज तेजी से बदले समाज में इंटरनेट के उपयोगकर्ता की संख्या भी तेजी से बढ रही है।

इंटरनेट केवल जानकारियां  जुटाने  करने का ही साधन  नहीं रहा बल्कि कई ऐसे उपाय हैं, जिससे  आप मालामाल हो सकते हैं। आज के समय में कम्प्यूटर और इंटरनेट हमारी जिंदगी का वो हिस्सा बन चुके हैं जो न केवल जिंदगी को आसान कर रहे हैं बल्कि आप उनसे रोजगार भी पा सकतें हैं।

 http://earnmoneyonlinesimply.com/wp-content/uploads/2011/04/How-to-Make-Money-Online-FAQs_full_article_vertical.jpg
ऑनलाइन सामानों की बिक्री करना
इस काम में ज्यादा झंझट  है  केवल ऐसी चीजों को एकत्र कर लें, जो एंटीक और शानदार हो। ये चीजें कुछ भी हो सकती हैं। इस सभी को लेकर एक विक्रेता वेबसाइट बनाएं। इसके लिए ईबे डॉट कॉम जैसी वेबसाइट  आपकी मदद कर सकता है। अपने द्वारा बनाए गए विक्रेता वेबसाइट पर बेचने वाले सामान की फोटो और शुरुआती कीमत का विवरण भी दें। जो भी व्यक्ति आपके सामानों में रुचि रखता होगा, वो आपके सामान की कीमत लगाएगा। इस प्रकार आप घर बैठे ही कमाई कर सकते हैं। 

 गूगल ब्लॉग या वर्डप्रेस से कमा सकते हैं पैसे
अगर आप लिखने में अच्छे  है तो तो आप इस माध्यम से भी अच्छे पैसे कमा सकते हैं। इसके लिए ब्लॉगिंग एक अच्छा माध्यम है। इसके लिए आपको अपनी रुचि के अनुसार एक ब्लॉग क्रिएट करना होगा। ब्लॉगिंग से पैसे कमाने में थोड़ा वक्त जरूर लगता है लेकिन यकिन मानिये कुछ दिनों की मेहनत के बाद आप बेहतर पैसे कमाने लगेंगे। 

खुद की बनायीं वस्तुओं से कमाइए पैसे 
इसके लिए आपको एक वेबसाइट बनानी होगी, और इस पर उन वस्तुओं के बारे में बताइये, जिसे आपने खुद अपने हाथ से बनाया है। जैसे घर में सजावट की वस्तुए या फिर खाने-पीने के सामान आदि को इसमें ऐसी चीजे शामिल की जा सकती है। ऑनलाइन शॉपिंग के इच्छुक लोग आपके वस्तुओं की खरीदारी करेंगे और आपकी कमाई होगी।

फ्रीलांसिंग से भी कमाइए पैसे 
यह प्रक्रिया ब्लोगिंग जैसी ही है । आज बहुत सी कंपनियां हैं जो अपना लिखने का काम फ्रीलांसर से करवाती हैं। इस पेशे में आप को बहुत से अलग-अलग क्षेत्र मिलेंगे, जिनमें से आप अपनी रुचि के क्षेत्र का चयन कर पैसे कमा सकतें हैं।  फ्रीलांसिंग में आपको कुछ प्रोजेक्ट दिए जाते हैं या तो उन्हें ट्रांसलेट करना होता है या फिर आपको कोई टॉपिक दिया जाता है, जिस पर आपको आर्टिकल लिखना होता है। जिसके बदले ये कंपनियां आपको अच्छा पैसा देती हैं। 

डोमेन नेम फ्लीपिंग
डोमने नेम फ्लीपिंग ठीक उसी तरह से है, जैसे किसी पुराने मकान को खरीदकर उसे सजा-धजा कर दुबारा ऊंचे दाम में बेचा जाता है। आपके द्वारा खरीदे गए डोमेन नेम को आम भाषा में वेबसाइट का नाम  दिया जाता है। 

फानेंसियल सर्विसेज
यदि आप कॉमर्स में रुचि रखते हैं तो यह काम पैसे कमाने का एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। इसके लिए आपको एक वेबसाइट का निर्माण करना होगा, जिस पर आप अपने ग्राहकों को वित्तिय सलाह या फिर उनके टैक्स आदि का विवण दे सकते हैं। इसके लिए आप ऑनलाईन ही मेल या फिर चैट के माध्यम से अपने क्लाइंट से कम्यूनिकेशन कर सकते हैं। 

कस्टमर सर्विसेज भी है पैसे कमाने का अच्छा तरीका 
इन दिनों लगभग सभी कंपनियां अपने ग्राहकों के सम्पर्क में रहना चाहती हैं और ग्राहक भी यूज किए जाने वाले उत्पाद के बारे में किसी भी शिकायत को जल्द हल करने के लिए कंपनी से सम्पर्क करना चाहते हैं। ऐसे में  आपको ऑनलाइन कस्टमर एक्जीक्यूटिव के तौर पर ग्राहकों के सामने पेश करता है। आपको उस ग्राहकर से बात कर उसे सलाह देनी होती है। इस तरह आप घर बैठे ही पैसे कमा सकते हैं। 

एसईओ रिव्यूविंग से बनिए खुद का सीईओ
एसईओ का कार्य यह होता है कि वो वेबसाइट के कंटेट को जो कि रीडर द्वारा सर्च किया जाता है उनके कीवर्ड के अनुसार सबसे नजदीक का रिजल्ट प्रदान करता है। इसके लिए बहुत सी कंटेंट बेस्ड वेबसाइट ऑन लाईन एसईओ डेवलपर हायर करती है। इसमें लोगों को कंटेंट में अपने विवेक के अनुसार बेहतरी कीवर्ड और एसईओ का प्रयोग करना होता है, ताकि आपका कंटेंट सर्च में सबसे ऊपर हो। इसके लिए कंपनियां पैसे देती हैं।

ऑनलाइन टीचर बन कमा सकते हैं पैसे
आज के समय में ऑनलाइन टीचर की डिमांड अच्छी-खासी तौर पर हो रही है। आप एक बेहतर ऑनलाइन ट्यूटर बन कर पैसे कमा सकते हैं। इसके लिए एक वेबसाइट है ट्यूटर डॉट कॉम, जहां आप आवेदन कर एक बेहतरी ट्यूटर बन सकते हैं।

Friday, 30 November 2012

कैसे बचें हैकर्स के जाल से

आधुनिक युग में कंप्यूटर यूजर की संख्या दिनो दिन बढ़ी रही है  इसी संख्या में सबसे ज्यादा इस्तेमाल इन्टरनेट चलने में होता है फिर चाहे वो ऑफिस में हो.. साइबर कैफे में हो या किसी अन्य बाहरी जगह। लेकिन इन सबके बीच पब्लिक कंप्यूटर या लैपटॉप पर इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों को बेफ्रिक होने की जगह सावधान रहने की जरूरत है। दरअसल, तकनीक के लगातार बढ़ते कदम ने हैकर्स की संख्या बढ़ा दी है। हैकिंग का ऐसा ही तरीका है हार्डवेयर
किलौगर।
यह पिन कनेक्शन के रूप में काम करता है, जो कि आपके द्वारा उस दौरान किए जाने वाले सारे प्रोसेस और डाटा को सेव कर लेता है। यहां तक की ये पिन आपके पासवर्ड, बैंकिंग या अन्य सभी डाटा को भी हैक कर लेता है।
ये गैजेट टूल इंटरनेट यूजर्स द्वारा कंप्यूटर पर किये जाने वाले हर प्रोसेस को रिकॉर्ड करने का काम करता है। ऐसे में हर इंटरनेट यूजर को पब्लिक कंप्यूटर इस्तेमाल करते समय ये सबसे पहले देख लेना चाहिए कि सिस्टम में हार्डवेयर किलौगर न लगा हो।
बाजार  में 3 तरह के हार्डवेयर किलौगर मौजूद हैं। इनमें पहला पीएस 2 है। दूसरा यूएसबी किलौगर और तीसरा वाईफाई की मदद से चलने वाला वाईफाई यूएसबी किलौगर। सिस्टम में इन तीनों में से एक डिवाइस भी लगे होने पर आपका सारा डाटा ऑटोमेटिक सेव होता जाएगा।
ईमेल से लेकर चैट रूम, इंसटेंट मैसेज, वेबसाइट एड्रेस, सर्च इंजन और बाकी सभी इंटरनेट से जुड़ी प्रक्रियाओं तक इस डिवाइस की पहुंच है। दूसरे शब्दों में कहें तो, हार्डवेयर किलौगर इन सबको ट्रेस करता रहता है।
अगर कोई इस डिवाइस की मदद से आपका डाटा चुराना चाहे तो इसके लिए उसे अलग से कोई सॉफ्टवेयर भी इंस्टॉल नहीं करना होगा। इसे सीपीयू में लगाने के बाद से ही ये कीबोर्ड पर हुए सारे प्रेस को ट्रेस कर लेता है फिर चाहे वो सिस्टम ऑन होने पर दबाई गईं हो या फिर ऑपरेटिंग सिस्टम के लोड होने पर।
किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम पर आसानी से चलने वाले कीलौगर केवल अल्फाबेड या न्यूमेरिक बटन को ही ट्रेस नहीं करता है बल्कि इसकी मदद से हैकर कंट्रोल+सी, कंट्रोल+एफ और कंट्रोल+ऑल्ट+डिलीट जैसे ऑप्शन के लिए दबाए गए बटन को भी सेव किया जा सकता है।
किलौगर को रिमोट इंस्टाल भी किया जा सकता है। साथ ही कंप्यूटर पर एंटी वायरस होने पर भी इसे पकड़ा नहीं जा सकता है। यह डिवाइस सिस्टम के ऑन होते ही ऑटोमेटिक काम करना शुरू कर देता है।
यूजर्स की सावधानी ही हैकिंग के मामले में खतरनाक माने जाने वाले इस डिवाइस से बचने का तरीका है। पब्लिक कंप्यूटर यूज करने वालों को इसके इस्तेमाल से पहले यह ध्यान से देख लेना चाहिए कि सीपीयू या कनेक्टर में कहीं हार्डवेयर कीलौगर तो नहीं लगा है। अगर यह डिवाइस लगा है तो या उस सिस्टम का इस्तेमाल न करें या फिर डिवाइस को निकालकर इंटरनेट यूज करें।

Sunday, 18 November 2012

अपनी हैंडराइटिंग का फॉण्ट खुद बनायें और डाउनलोड करें अपने कंप्यूटर में


अब आप अपनी हैंडराइटिंग का फॉण्ट खुद बनाकर अपने कंप्यूटर में डाउनलोड कर सकते है। ये सुरक्षा की द्रष्टि से भी सही है | पर ऐसा तभी हो सकता है जब कंप्यूटर में आपके  हैण्डराईटिंग जैसा फॉण्ट मौजूद हो। 
और ये काम आप एक टूल की मदद से कर सकते है , जो कि आपकी हैण्डराईटिंग को फॉण्ट में बदल देगा, जिसको आप अपने कंप्यूटर(मैक और विंडोज दोनों में) में इंस्टाल  करके अपनी  हैण्डराईटिंग में लिख सकते है। यह  बहुत ही आसन तरीका है इसके लिए आपके पास स्कैनर तथा प्रिंटर होना जरुरी है सबसे पहले आपको इस साईट   पर जाना होगा, जहाँ से आपको एक फॉण्ट टेम्पलेट्स फॉर्म डाउनलोड करना पड़ेगा। जिसे आप यहाँ क्लिक  करके डाउनलोड कर सकते है | आपको इस फॉर्म को अपनी हैण्डराईटिंग में भरना होगा | फॉर्म को सही प्रकार से भरने के बारे में निर्देश इस पेज पर दिए गए है | इसके बाद अब आपको अपना फॉर्म सकें करके अपलोड करना है , जो आप इस पेज पर जाकर कर सकते है | इस पेज  पर आप अपने फॉण्ट का प्रीवियु देख सकते है ,साथ ही डाउनलोड कर सकते है |

Friday, 9 November 2012

इस एक तरीके से बनायें अपने कंप्यूटर को स्मार्ट कंप्यूटर

मैं इसका इस्तेमाल काफी टाइम से कर रहा हूँ, शायद ये ट्रिक आपके भी काम आये इसके जरिये कंप्यूटर अपने आप बंद हो जाता है।
मैं कई बार इन्टरनेट से फाइल्स डाउनलोड करता हूँ, उनकी साइज़ बहुत बड़ी होती है और उनको डाउनलोड करने में बहुत टाइम लगता है। इस ट्रिक की सहायता से कंप्यूटर के बंद होने के टाइम फिक्स कर देता हूँ जितना टाइम फाइल को डाउनलोड होने में लगता है। जैसे एक फाइल 3 घंटे में डाउनलोड हो जाएगी तो इस ऑटो सेट से उसमे टाइम फिक्स कर देता हूँ जैसे ही 3 घंटे होंगे कंप्यूटर अपने आप बंद हो जायेगा फिर चाहे में सो गया हूँ या फिर कही बाहर। काम पूरा होने के बाद कंप्यूटर अपने आप बंद हो जायेगा।
इसका इस्तेमाल करना बहुत ही आसन है इसके लिए किसी प्रकार का कोई भी सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने की जरुरत नहीं है  इसके लिए सबसे पहले नोटपैड ओपन करें और उसमे ये कोड पेस्ट कर दें।

shutdown -s -t

इस कोड को लिखने के बाद -s -t के बाद उतने सेकेंड लिखने है जितने सेकेंड बाद आपको अपना कंप्यूटर बंद करना है
जैसे अगर आपको 1 घंटे बाद कंप्यूटर बंद करना है तो 
आपको इसमें shutdown -s -t 3600 लिखना होगा इतना लिखने के बाद आप इसे कोई भी नाम देकर फिर नाम के बाद में .bat लगाकर फाइल को सेव कर दें जैसे मुझे इस फाइल को shutdown के नाम से सेव करनी है तो मुझे इसे shutdown.bat लिखकर सेव करना होगा। फाइल सेव करने के बाद उस फाइल तो डबल क्लिक करके खोलेंगे तो एक विंडो खुलेगी जिसमे टाइमिंग चलती रहेगी। जैसे ही टाइम पूरा होगा कंप्यूटर अपने आप बंद हो जायेगा 

Monday, 5 November 2012

अपने कंप्यूटर के एंटीवायरस की लें परीक्षा

क्या आपके कंप्यूटर में एंटीवायरस ठीक से काम कर रहा है या नहीं यह जांचने के लिए नीचे लिखे कोड को कॉपी करके नोटपैड में पेस्ट कर दें, और उसे virus.exe के नाम से सेव कर दें .

X5O!P%@AP[4\PZX54(P^)7CC)7}$EICAR-STANDARD-ANTIVIRUS-TEST-FILE!$H+H*




अगर आपका एंटीवायरस ठीक से काम कर रहा है तो यह फाइल सेव नहीं होगी और वार्न करेगा की virus.exe फाइल को डिटेक्ट किया है   

फेसबुक अकाउंट को बचाए हैक होने से

 बचाएं अपना फेसबुक प्रोफाइल हैक होने से 



- किसी दोस्तों की तरफ से मैसेज आता है तो उसे प़ढ़कर व समझकर ही क्लिक करें क्योंकि उसमें वायरस हो सकता है। यदि समझ नहीं आए तो उसे डिलीट कर दें। या फिर तुरंत ही उस व्यक्ति को सूचित करें जिसके अकाउंट से वॉल पर पोस्ट हुआ है।

-
ई-मेल पर कोई लिंक आती है तो उसे भी क्लिक न करें।

-
फेसबुक एप्लीकेशन यूज कर रहे हैं तो पहले परमिशन मांगी जाती है यहां यह जान लें कि सामने वाला क्या-क्या जानकारी हमारी प्रोफाइल से ले सकता है।

-
यदि सामने वाला यूजर डिटेल में जानकारी लेता है तो उस एप्लीकेशन को यूज करने से बचें।

-
यदि आप फेसबुक वॉल पर कोई ऐसा फोटो देखते हैं जो गलत है या अच्छा नहीं है तो आप उस फोटो और मैसेज को रिपोर्ट एब्यूस पर क्लिक कर दीजिए। यदि फेसबुक टीम को लगेगा कि इस फोटो और मैसेज को ज्यादा लोग एब्यूज मार्क कर रहे हैं तो वे इन्हें हटा देते हैं।

-
यदि किसी व्यक्ति का आईडी हैक हुआ है और हैकर उसकी प्रोफाइल का मिस यूज कर रहा है तो तुरंत ही पुलिस थाना और सायबर सेल के ऑफिस में शिकायत दर्ज करें।

-
फेसबुक यूजर प्रायवेसी सेटिंग एनेबल करें ताकि आप अपने प्रायवेट नेटवर्क मजबूत बना सकें ताकि कोई भी अनजान व्यक्ति आपकी वॉल पर पोस्ट न कर पाए और न ही आपने जो पोस्ट किया है वह देख पाए।

Saturday, 3 November 2012

Firefox के कुछ पापुलर addons

अनचाहे एडवर्टाईजमेंट बैन कर दें...
Firefox Addon -  Ghostery..   (Download Link)


Ghostery 330 से ज्यादा एडवर्टाईजमेंट साईटों को बैन कर देता है ईसे ईन्सटाल करने के बाद आपको गुगल का एडसेंस नही परेसान करेगा और पेज पहले से ज्यादा जल्दी खुलेगा।

ईसे डालने के बाद Blogspot वाले ब्लाग पर  पर कमेंट बाक्स नही दिखता है?
Firefox के Tools मे जा कर Ghostery >> Manage Ghostery Option >> Blocking मे जाएं और Filter मे टाईप करें google और फिर उसमे आपको Google Friend Connect दिखेगा, उसे Unmark कर दें और फिर Save पर क्लिक कर के फिर से ब्लाग के साईट खोलेंगे तो कमेंट बाक्स दिखने लगेगा..



 FlashBlock (Download Link)
कई साईटो पर जाने पर फ्लैस एडवर्टाईजमेंट होते हैं जो एनीमेटेड एडवर्टाईजमेंट आदी दिखाते हैं जिससे फायरफाक्स, नेट आदी तो स्लो होता ही है, साथ मे Computer का CPU ईस्तेमाल भी बढ जाता है।

ये फ्लैस तो ब्लाक कर देता है लेकीन एक बढीया बात ये भी है की उसे ब्लाक कर के बाक्स जैसे आकार मे बदल देता है और उसपर क्लिक करने पर ब्लाक किया गया फलैस फाईल दिखने लगता है।

एक Example:





Page Title Eraser:  (Download Link)

 कोई पेज खोले हों तो PTE(PageTitleEraser) पर क्लिक करने पर ये उस पेज के टाईटल को मिटा देता है या आप जागे तो ब्लैंक बना देगा या जो आप उसमे  लिख कर सेट किये होंगे तो उसे दिखा देगा।

Auto Fill Forms  (Download Link)


 ईसमे एक प्रोफाईल बना के सेट कर दें और फिर अगर कहीं लागईन पेज आदी हो तो वहां पर ईसपर क्लिक करें और ये खुद ही उसे भर देगा यानी ब्लागर लागईन, याहु लागई, आदी जगहों पर बार बार युजरनेम, पासवर्ड डालने की जरूरत नही होती है।